☰
Search
Mic
हि
Sign InSign In साइन इनAndroid Play StoreIOS App StoreSetting
Clock
Mesha Rashifal
मेष
Vrishabha Rashifal
वृषभ
Mithuna Rashifal
मिथुन
Karka Rashifal
कर्क
Simha Rashifal
सिंह
Kanya Rashifal
कन्या
Tula Rashifal
तुला
Vrishchika Rashifal
वृश्चिक
Dhanu Rashifal
धनु
Makara Rashifal
मकर
Kumbha Rashifal
कुम्भ
Meena Rashifal
मीन

1985 काली चौदस का दिन और समय नई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, भारत के लिए

DeepakDeepak
लिगेसी डिजाईन में स्विच करें
1985 काली चौदस
📅वर्ष चुनें/placeholderClose
iOS Shubh Diwali AppAndroid Shubh Diwali App
दीवाली पूजा मुहूर्त, पूजा विधि, आरती, चालीसा आदि के लिए शुभ दीवाली ऐप इनस्टॉल करें
नई दिल्ली, भारत
काली चौदस
11वाँ
नवम्बर 1985
Monday / सोमवार
दीवाली के दौरान काली चौदस
Goddess Kalaratri
काली चौदस मुहूर्त

काली चौदस मुहूर्त

काली चौदस सोमवार, नवम्बर 11, 1985 को
काली चौदस मुहूर्त - 11:39 पी एम से 12:32 ए एम, नवम्बर 12
अवधि - 00 घण्टे 53 मिनट्स
हनुमान पूजा सोमवार, नवम्बर 11, 1985 को
चतुर्दशी तिथि प्रारम्भ - नवम्बर 11, 1985 को 03:02 ए एम बजे
चतुर्दशी तिथि समाप्त - नवम्बर 11, 1985 को 11:28 पी एम बजे

टिप्पणी: सभी समय १२-घण्टा प्रारूप में नई दिल्ली, भारत के स्थानीय समय और डी.एस.टी समायोजित (यदि मान्य है) के साथ दर्शाये गए हैं।
आधी रात के बाद के समय जो आगामि दिन के समय को दर्शाते हैं, आगामि दिन से प्रत्यय कर दर्शाये गए हैं। पञ्चाङ्ग में दिन सूर्योदय से शुरू होता है और पूर्व दिन सूर्योदय के साथ ही समाप्त हो जाता है।

1985 काली चौदस पूजा

Kali Chaudas is also known as Bhut Chaturdashi. Kali Chaudas is mainly observed in Western states especially in Gujarat.

Kali Chaudas is observed during Chaturdashi Tithi during Diwali festivity. However Kali Chaudas day should not be mixed with Roop Chaudas and Narak Chaturdashi as it might fall one day before of Narak Chaturdashi. The day of Kali Chaudas is decided when Chaturdashi prevails during midnight which as per Panchang is known as Maha Nishita time.

As rituals of Kali Chaudas involve visiting crematorium during midnight for offering Puja to the Goddess of darkness and to Veer Vetal, the day of Kali Chaudas is decided when Chaturdashi prevails during midnight.

It seems that most Panchang do not make such distinction and list Kali Chaudas with Roop Chaudas and Narak Chaturdashi. Hence one has to be cautious while looking for Kali Chaudas date.

Further Kali Chaudas should not be confused with Bengal Kali Puja which is observed one day after Kali Chaudas when Amavasya Tithi prevails during midnight.

Kalash
कॉपीराइट नोटिस
PanditJi Logo
सभी छवियाँ और डेटा - कॉपीराइट
Ⓒ www.drikpanchang.com
प्राइवेसी पॉलिसी
द्रिक पञ्चाङ्ग और पण्डितजी लोगो drikpanchang.com के पञ्जीकृत ट्रेडमार्क हैं।
Android Play StoreIOS App Store
Drikpanchang Donation