☰
Search
हि
Sign InSign In साइन इनAndroid Play StoreIOS App StoreSetting
Clock
दीवाली पूजा कैलेण्डर📈📉 शेयर बाजार व्यापार विमर्श📈📉 वस्तु बाजार मासिक रुझान
Mesha Rashifal
मेष
Vrishabha Rashifal
वृषभ
Mithuna Rashifal
मिथुन
Karka Rashifal
कर्क
Simha Rashifal
सिंह
Kanya Rashifal
कन्या
Tula Rashifal
तुला
Vrishchika Rashifal
वृश्चिक
Dhanu Rashifal
धनु
Makara Rashifal
मकर
Kumbha Rashifal
कुम्भ
Meena Rashifal
मीन

Deepak2019 यम द्वितीया का दिन और समय नई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, इण्डिया के लिएDeepak

लिगेसी डिजाईन में स्विच करें
2019 यम द्वितीया
📅वर्ष चुनेंhttps://www.drikpanchang.com/placeholderClose
शहर बदलेंclose
इण्डियानई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, इण्डिया
iOS Shubh Diwali AppAndroid Shubh Diwali App
दीवाली पूजा मुहूर्त, पूजा विधि, आरती, चालीसा आदि के लिए शुभ दीवाली ऐप इनस्टॉल करें
नई दिल्ली, इण्डिया
यम द्वितीया
29वाँ
अक्टूबर 2019
Tuesday / मंगलवार
भगवानन यमदेव
Lord Yamaraj
यम द्वितीय पूजा मुहूर्त

यम द्वितीय पूजा मुहूर्त

यम द्वितीय मंगलवार, अक्टूबर 29, 2019 को
यम द्वितीय अपराह्न मुहूर्त - 01:11 पी एम से 03:25 पी एम
अवधि - 02 घण्टे 14 मिनट्स
द्वितीया तिथि प्रारम्भ - अक्टूबर 29, 2019 को 06:13 ए एम बजे
द्वितीया तिथि समाप्त - अक्टूबर 30, 2019 को 03:48 ए एम बजे

टिप्पणी: सभी समय १२-घण्टा प्रारूप में नई दिल्ली, इण्डिया के स्थानीय समय और डी.एस.टी समायोजित (यदि मान्य है) के साथ दर्शाये गए हैं।
आधी रात के बाद के समय जो आगामि दिन के समय को दर्शाते हैं, आगामि दिन से प्रत्यय कर दर्शाये गए हैं। पञ्चाङ्ग में दिन सूर्योदय से शुरू होता है और पूर्व दिन सूर्योदय के साथ ही समाप्त हो जाता है।

2019 यम द्वितीया

Yama Dwitiya is observed on Dwitiya Tithi during Kartik month. Most of the times, Yama Dwitiya falls two days after Diwali Puja. Yamraj, the lord of death, is worshipped on Yama Dwitiya along with Chitragupta and Yama-Doots, the subordinates of Lord Yamraj.

The Aparahna is the most suitable time for Yama Dwitiya Puja. Yamuna Snan is suggested in the morning before Yamraj Puja during Aparahna. Arghya should be given to Lord Yama after Puja.

Apart from Yama Puja, the day is more popularly known as Bhai Dooj. As per Yama Dwitiya legends, Goddess Yamuna fed her brother Yamraj on Kartik Dwitiya at her own home. Since then this day is known as Yama Dwitiya. It is believed that sisters who feed their brothers on this auspicious day would be forever Saubhagyavati (सौभाग्यवती) and eating at sisters home bestows long life to brothers. Hence, on Bhai Dooj, sisters cook sumptuous food for their brothers and feed them with their own hands.

Kalash
कॉपीराइट नोटिस
PanditJi Logo
सभी छवियाँ और डेटा - कॉपीराइट
Ⓒ www.drikpanchang.com
प्राइवेसी पॉलिसी
Android Play StoreIOS App Store
Drikpanchang Donation