☰
Search
Mic
हि
Android Play StoreIOS App Store
Setting
Clock

2017 वैकासी विसाकम् का दिन सान दिएगो, California, संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए

DeepakDeepak

2017 वैकासी विसाकम्

सान दिएगो, संयुक्त राज्य अमेरिका
वैकासी विसाकम्
7वाँ
जून 2017
Wednesday / बुधवार
वैकासी विसाकम्
Vaikasi Visakam

वैकासी विसाकम मुहूर्त

वैकासी विसाकम बुधवार, जून 7, 2017 को
विसाकम् नक्षत्रम् प्रारम्भ - जून 06, 2017 को 07:58 ए एम बजे
विसाकम् नक्षत्रम् समाप्त - जून 07, 2017 को 10:49 ए एम बजे

टिप्पणी: सभी समय १२-घण्टा प्रारूप में सान दिएगो, संयुक्त राज्य अमेरिका के स्थानीय समय और डी.एस.टी समायोजित (यदि मान्य है) के साथ दर्शाये गए हैं।
आधी रात के बाद के समय जो आगामि दिन के समय को दर्शाते हैं, आगामि दिन से प्रत्यय कर दर्शाये गए हैं। पञ्चाङ्ग में दिन सूर्योदय से शुरू होता है और पूर्व दिन सूर्योदय के साथ ही समाप्त हो जाता है।

वैकासी विसाकम् 2017

वैकाशी विशाकम को भगवान मुरुगन के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है। यह तमिल माह वैकाशी में विशकाम नक्षत्र के समय मनाया जाता है। वैकाशी तमिल कैलेण्डर में दूसरा सौर माह है तथा विशकाम सत्ताईस नक्षत्रों में से सोलहवाँ नक्षत्र है, जो प्रत्येक माह में न्यूनतम एक बार आता है। वैकाशी माह को वृषभ माह के रूप में भी जाना जाता है तथा विशकाम नक्षत्र को अन्य हिन्दु कैलेण्डर में विशाखा नक्षत्र के रूप में जाना जाता है। अँग्रेजी कैलेण्डर में वैकाशी विशाकम मई या जून के माह में आती है।

भगवान मुरुगा की जयन्ती का यह पावन पर्व मुख्य रूप से तमिल भक्तों द्वारा पूरी दुनिया में मनाया जाता है। भगवान मुरुगा अथवा भगवान मुरुगन को साहस, समृद्धि तथा ज्ञान के देवता के रूप में भी जाना जाता है। भगवान मुरुगन भगवान शिव एवं देवी पार्वती के ज्येष्ठ पुत्र हैं तथा भगवान गणेश के भ्राता हैं। भगवान मुरुगन को भगवान सेंथिल, भगवान कुमारन, भगवान सुब्रमण्यम तथा भगवान शनमुगम के नाम से भी जाना जाता है। भगवान मुरुगन के छह मुख हैं। इसीलिये उन्हें भगवान अरुमुगम के नाम से भी जाना जाता है। अपने छह मुखों के कारण, भगवान मुरुगन पूर्व, पश्चिम, उत्तर, दक्षिण, स्वर्ग तथा पाताल में एक साथ देख सकते हैं।

वैकाशी विशाकम के अवसर पर, जिस समय पूर्णिमा व विशकाम नक्षत्र होते हैं, भक्तगण एक शोभायात्रा निकालते हैं तथा सुब्रमनिया मन्दिरों में मुरुगन देव का दुग्ध अभिषेकम करने के लिये दूध ले जाते हैं।

वैकाशी विशाकम को वैखसी विशाखम के रूप में भी जाना जाता है।

Kalash
कॉपीराइट नोटिस
PanditJi Logo
सभी छवियाँ और डेटा - कॉपीराइट
Ⓒ www.drikpanchang.com
प्राइवेसी पॉलिसी
द्रिक पञ्चाङ्ग और पण्डितजी लोगो drikpanchang.com के पञ्जीकृत ट्रेडमार्क हैं।
Android Play StoreIOS App Store
Drikpanchang Donation