☰
Search
Mic
हि
Sign InSign In साइन इनAndroid Play StoreIOS App StoreSetting
Clock
Mesha Rashifal
मेष
Vrishabha Rashifal
वृषभ
Mithuna Rashifal
मिथुन
Karka Rashifal
कर्क
Simha Rashifal
सिंह
Kanya Rashifal
कन्या
Tula Rashifal
तुला
Vrishchika Rashifal
वृश्चिक
Dhanu Rashifal
धनु
Makara Rashifal
मकर
Kumbha Rashifal
कुम्भ
Meena Rashifal
मीन

1710 बोल चौथ का दिन और समय नई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, भारत के लिए

DeepakDeepak
लिगेसी डिजाईन में स्विच करें
1710 बोल चौथ व्रत और पूजा का समय
📅वर्ष चुनेंhttps://www.drikpanchang.com/placeholderClose
शहर बदलेंclose
भारतनई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, भारत
नई दिल्ली, भारत
बोल चौथ
13वाँ
अगस्त 1710
Wednesday / बुधवार
भगवान कृष्ण गौ माता के साथ
Bol Choth
बोल चौथ मूहूर्त

बोल चौथ मूहूर्त

बोल चौथ बुधवार, अगस्त 13, 1710 को
गोधुली पूजा मूहूर्त - 07:13 पी एम से 07:39 पी एम
अवधि - 00 घण्टे 26 मिनट्स
बोल चौथ के दिन चन्द्रोदय - 09:25 पी एम
चतुर्थी तिथि प्रारम्भ - अगस्त 12, 1710 को 09:12 पी एम बजे
चतुर्थी तिथि समाप्त - अगस्त 13, 1710 को 11:38 पी एम बजे

टिप्पणी: सभी समय १२-घण्टा प्रारूप में नई दिल्ली, भारत के स्थानीय समय और डी.एस.टी समायोजित (यदि मान्य है) के साथ दर्शाये गए हैं।
आधी रात के बाद के समय जो आगामि दिन के समय को दर्शाते हैं, आगामि दिन से प्रत्यय कर दर्शाये गए हैं। पञ्चाङ्ग में दिन सूर्योदय से शुरू होता है और पूर्व दिन सूर्योदय के साथ ही समाप्त हो जाता है।

1710 बोल चौथ व्रत

Bol Choth is mainly celebrated in Gujarat. It is observed on Krishna Chaturthi during Shravan month. The day of Bol Choth falls one day before of significant Nag Pancham day in Gujarat. The day is mainly observed for the welfare of cows and calves.

People observe a day long fast on the day of Bol Choth. The cows and calves are worshipped in the evening. It is believed that people who observe a day long fast and worship cows in the evening are blessed with off-springs, wealth and prosperity. Devotees who observe Bol Choth fasting strictly abstain from drinking milk and eating any milk-made products.

In other states Bol Choth is known as Bahula Chaturthi. Bol Choth with the name of Bahula Chaturthi is more popular in Madhya Pradesh.

Kalash
कॉपीराइट नोटिस
PanditJi Logo
सभी छवियाँ और डेटा - कॉपीराइट
Ⓒ www.drikpanchang.com
प्राइवेसी पॉलिसी
द्रिक पञ्चाङ्ग और पण्डितजी लोगो drikpanchang.com के पञ्जीकृत ट्रेडमार्क हैं।
Android Play StoreIOS App Store
Drikpanchang Donation