☰
Search
Mic
हि
Sign InSign In साइन इनAndroid Play StoreIOS App StoreSetting
Clock

शीतला माता आरती - हिन्दी गीतिकाव्य और वीडियो गीत

DeepakDeepak

शीतला माता की आरती

जय शीतला माता माँ शीतला की सबसे प्रसिद्ध आरती है। यह प्रसिद्ध आरती शीतला माता से सम्बन्धित अधिकांश अवसरों पर गायी जाती है।

॥ श्री शीतला माता की आरती ॥

जय शीतला माता,मैया जय शीतला माता।

आदि ज्योति महारानीसब फल की दाता॥

ॐ जय शीतला माता...।

रतन सिंहासन शोभित,श्वेत छत्र भाता।

ऋद्धि-सिद्धि चँवर डोलावें,जगमग छवि छाता॥

ॐ जय शीतला माता...।

विष्णु सेवत ठाढ़े,सेवें शिव धाता।

वेद पुराण वरणतपार नहीं पाता॥

ॐ जय शीतला माता...।

इन्द्र मृदङ्ग बजावतचन्द्र वीणा हाथा।

सूरज ताल बजावैनारद मुनि गाता॥

ॐ जय शीतला माता...।

घण्टा शङ्ख शहनाईबाजै मन भाता।

करै भक्त जन आरतीलखि लखि हर्षाता॥

ॐ जय शीतला माता...।

ब्रह्म रूप वरदानीतुही तीन काल ज्ञाता।

भक्तन को सुख देतीमातु पिता भ्राता॥

ॐ जय शीतला माता...।

जो जन ध्यान लगावेप्रेम शक्ति पाता।

सकल मनोरथ पावेभवनिधि तर जाता॥

ॐ जय शीतला माता...।

रोगों से जो पीड़ित कोईशरण तेरी आता।

कोढ़ी पावे निर्मल कायाअन्ध नेत्र पाता॥

ॐ जय शीतला माता...।

बांझ पुत्र को पावेदारिद्र कट जाता।

ताको भजै जो नाहींसिर धुनि पछताता॥

ॐ जय शीतला माता...।

शीतल करती जन कीतू ही है जग त्राता।

उत्पत्ति बाला बिनाशनतू सब की माता॥

ॐ जय शीतला माता...।

दास नारायणकर जोरी माता।

भक्ति आपनी दीजैऔर न कुछ माता॥

ॐ जय शीतला माता...।

Kalash
कॉपीराइट नोटिस
PanditJi Logo
सभी छवियाँ और डेटा - कॉपीराइट
Ⓒ www.drikpanchang.com
प्राइवेसी पॉलिसी
द्रिक पञ्चाङ्ग और पण्डितजी लोगो drikpanchang.com के पञ्जीकृत ट्रेडमार्क हैं।
Android Play StoreIOS App Store
Drikpanchang Donation