☰
Search
हि
Sign InSign In साइन इनAndroid Play StoreIOS App StoreSetting
Clock
कोविड-19 महामारी
Mesha Rashifal
मेष
Vrishabha Rashifal
वृषभ
Mithuna Rashifal
मिथुन
Karka Rashifal
कर्क
Simha Rashifal
सिंह
Kanya Rashifal
कन्या
Tula Rashifal
तुला
Vrishchika Rashifal
वृश्चिक
Dhanu Rashifal
धनु
Makara Rashifal
मकर
Kumbha Rashifal
कुम्भ
Meena Rashifal
मीन

Deepak2538 शाकम्भरी पूर्णिमा | शाकम्भरी जयन्ती का दिन नई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, भारत के लिएDeepak

लिगेसी डिजाईन में स्विच करें
2538 शाकम्भरी पूर्णिमा
📅वर्ष चुनेंhttps://www.drikpanchang.com/placeholderClose
नई दिल्ली, भारत
शाकम्भरी पूर्णिमा
16वाँ
जनवरी 2538
Thursday / गुरूवार
देवी शाकम्भरी
Goddess Shakambari
शाकम्भरी पूर्णिमा समय

शाकम्भरी पूर्णिमा समय

शाकम्भरी पूर्णिमा बृहस्पतिवार, जनवरी 16, 2538 को
पूर्णिमा तिथि प्रारम्भ - जनवरी 15, 2538 को 05:43 पी एम बजे
पूर्णिमा तिथि समाप्त - जनवरी 16, 2538 को 05:09 पी एम बजे

टिप्पणी: सभी समय १२-घण्टा प्रारूप में नई दिल्ली, भारत के स्थानीय समय और डी.एस.टी समायोजित (यदि मान्य है) के साथ दर्शाये गए हैं।
आधी रात के बाद के समय जो आगामि दिन के समय को दर्शाते हैं, आगामि दिन से प्रत्यय कर दर्शाये गए हैं। पञ्चाङ्ग में दिन सूर्योदय से शुरू होता है और पूर्व दिन सूर्योदय के साथ ही समाप्त हो जाता है।

2538 शाकम्भरी पूर्णिमा

Shakambhari Purnima, which is also known as Shakambhari Jayanti, is the last day of Shakambhari Navratri.

Most Navratri begins on Shukla Pratipada except Shakambhari Navratri which begins on Ashtami and ends on Purnima in Paush month. Hence Shakambhari Navratri spans for total eight days. However in some years due to skipped Tithi and leaped Tithi Shakambhari Navratri might span for seven and nine days respectively.

Shakambhari Mata is incarnation of Devi Bhagwati. It is believed that Devi Bhagwati incarnated as Shakambhari to mitigate famine and severe food crisis on the Earth. She is also known as Goddess of vegetables, fruits and green leaves and depicted with green surroundings of fruits and vegetables.

Kalash
कॉपीराइट नोटिस
PanditJi Logo
सभी छवियाँ और डेटा - कॉपीराइट
Ⓒ www.drikpanchang.com
प्राइवेसी पॉलिसी
द्रिक पञ्चाङ्ग और पण्डितजी लोगो drikpanchang.com के पञ्जीकृत ट्रेडमार्क हैं।
Android Play StoreIOS App Store
Drikpanchang Donation