☰
Search
हि
Sign InSign In साइन इनAndroid Play StoreIOS App StoreSetting
Clock
कोविड-19 महामारी
Mesha Rashifal
मेष
Vrishabha Rashifal
वृषभ
Mithuna Rashifal
मिथुन
Karka Rashifal
कर्क
Simha Rashifal
सिंह
Kanya Rashifal
कन्या
Tula Rashifal
तुला
Vrishchika Rashifal
वृश्चिक
Dhanu Rashifal
धनु
Makara Rashifal
मकर
Kumbha Rashifal
कुम्भ
Meena Rashifal
मीन

1911 कर्क संक्रान्ति पुण्य काल समय नई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, भारत के लिए

DeepakDeepak
लिगेसी डिजाईन में स्विच करें
1911 कर्क संक्रान्ति
📅वर्ष चुनेंhttps://www.drikpanchang.com/placeholderClose
वर्ष
1911
वर्ष बदलें
T
वर्तमान वर्ष
देवनागरी अंक सेट करें
Sankranti
निरयण संक्रान्ति
Theme
आधुनिक थीम चुनें
नई दिल्ली, भारत
कर्क संक्रान्ति
16वाँ
जुलाई 1911
Sunday / रविवार
कर्क संक्रान्ति
Karka Sankranti
कर्क संक्रान्ति पुण्य काल मुहूर्त

कर्क संक्रान्ति पुण्य काल मुहूर्त

कर्क संक्रान्ति रविवार, जुलाई 16, 1911 को
कर्क संक्रान्ति पुण्य काल - 05:33 ए एम से 12:37 पी एम
अवधि - 07 घण्टे 05 मिनट्स
कर्क संक्रान्ति महा पुण्य काल - 10:19 ए एम से 12:37 पी एम
अवधि - 02 घण्टे 18 मिनट्स
कर्क संक्रान्ति का क्षण - 12:37 पी एम
कर्क संक्रान्ति फलम्

कर्क संक्रान्ति फलम्

  • छोटे (निम्न) कार्यों में शामिल लोगों के लिए यह संक्रान्ति अच्छी है।
  • वस्तुओं की लागत सस्ती होगी।
  • प्रावधानों की प्रचुर आपूर्ति लाती है।
  • लोग खांसी और ठण्ड से पीड़ित होंगे, राष्ट्रों के बीच संघर्ष होगा और बारिश के अभाव में अकाल की सम्भावना बनेगी।
कर्क संक्रान्ति मुहूर्त

कर्क संक्रान्ति मुहूर्त

संक्रान्ति करण: तैतिल
संक्रान्ति दिन: Sunday / रविवार
संक्रान्ति अवलोकन दिनाँक: जुलाई 16, 1911
संक्रान्ति गोचर दिनाँक: जुलाई 16, 1911
संक्रान्ति का समय: 12:37 पी एम, जुलाई 16
संक्रान्ति घटी: 16 (दिनमान)
संक्रान्ति चन्द्रराशि: कुम्भ Kumbha
संक्रान्ति नक्षत्र: पूर्व भाद्रपद (उग्र संज्ञक) Purva Bhadrapada
तैतिल करण संक्रान्ति के साथ वाहन गर्दभ पर सवार
Sankranti Phalam

संक्रान्ति गुण
फलम् संकेत
नाम
घोर
वार मुख
पूर्व
दृष्टि
नैऋत्य
गमन
पूर्व
वाहन
गर्दभ
उपवाहन
मेष
वस्त्र
गुलाबी
आयुध
दण्ड
भक्ष्य पदार्थ
पकवान
गन्ध द्रव्य
मिट्टी
वर्ण
पक्षी
पुष्प
केतकी
वय
युवा
अवस्था
हास्य
करण मुख
उत्तर
स्थिति
सोती
भोजन पात्र
काँसा
आभूषण
मूँग
कन्चुकी
श्वेत

टिप्पणी: सभी समय १२-घण्टा प्रारूप में नई दिल्ली, भारत के स्थानीय समय और डी.एस.टी समायोजित (यदि मान्य है) के साथ दर्शाये गए हैं।
आधी रात के बाद के समय जो आगामि दिन के समय को दर्शाते हैं, आगामि दिन से प्रत्यय कर दर्शाये गए हैं। पञ्चाङ्ग में दिन सूर्योदय से शुरू होता है और पूर्व दिन सूर्योदय के साथ ही समाप्त हो जाता है।

1911 Karka Sankranti or Sankranthi

Karka Sankranti marks the southern journey of Lord Surya. Dakshinayana, which is period of six months, starts with Karka Sankranti. Karka Sankranti is the counterpart of Makar Sankranti and it is considered significant for charity activities.

Kalash
कॉपीराइट नोटिस
PanditJi Logo
सभी छवियाँ और डेटा - कॉपीराइट
Ⓒ www.drikpanchang.com
प्राइवेसी पॉलिसी
द्रिक पञ्चाङ्ग और पण्डितजी लोगो drikpanchang.com के पञ्जीकृत ट्रेडमार्क हैं।
Android Play StoreIOS App Store
Drikpanchang Donation