☰
Search
हि
Sign InSign In साइन इनAndroid Play StoreIOS App StoreSetting
Clock
दीवाली पूजा कैलेण्डर📈📉 शेयर बाजार व्यापार विमर्श📈📉 वस्तु बाजार मासिक रुझान
Shradh

Deepak2019 कार्तिगाई नक्षत्र के दिन नई दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, इण्डिया के लिएDeepak

लिगेसी डिजाईन में स्विच करें
नई दिल्ली, इण्डिया

19

सितम्बर 2019
बृहस्पतिवार

2019 कार्तिगाई नक्षत्र के दिन

Masik Karthigai Dates

कार्तिगाई दीपम मुख्य रूप से तमिल हिन्दुओं द्वारा मनाया जाता है। यह त्योहार तमिल लोगों द्वारा मनाये जाने वाले सबसे पुराने त्यौहारों में से एक है। त्योहार के दिन शाम के समय घरों और गलियों में तेल के दीप एक पंक्ति में जलायें जाते हैं।

कार्तिगाई दीपम और कार्तिकाई दीपम का उपयोग आपस में अदल-बदल कर किया जाता है। कार्तिगाई दीपम का नाम कार्तिकाई या कृत्तिका नक्षत्र से लिया गया हैं। जिस दिन कृत्तिका नक्षत्र प्रबल होता है उस दिन कार्तिगाई दीपम को मनाया जाता है।

कार्तिगाई दीपम को भगवान शिव के सम्मान में किया जाता है। हिन्दु पौराणिक कथाओं के अनुसार इस दिन भगवान शिव ने भगवान विष्णु और ब्रह्मा जी को अपनी श्रेष्ठता साबित करने के लिए स्वयं को प्रकाश की अनन्त ज्योत में बदल लिया था।

हालाँकि कार्तिगाई के दिन का पालन हर महीने किया जाता है लेकिन सबसे मुख्य दिन, कार्तिकाई (जो अन्य हिन्दु कैलेण्डरों में वृश्चिक सौर माह से मेल खाता है) के महीने में पड़ता हैं। द्रिक पञ्चाङ्ग साल में सभी कार्तिकाई के दिनों को सूचीबद्ध करता है और इसमें सबसे मुख्य कार्तिकाई के दिन जिसे कार्तिकाई दीपम कहते हैं, शामिल है।

2019 कार्तिकाई नक्षत्र के दिन
[2075 - 2076] विक्रम सम्वत
मासिक कार्तिगाई
जनवरी 16, 2019, बुधवार
मासिक कार्तिगाई
फरवरी 13, 2019, बुधवार
मासिक कार्तिगाई
मार्च 12, 2019, मंगलवार
मासिक कार्तिगाई
अप्रैल 8, 2019, सोमवार
मासिक कार्तिगाई
मई 5, 2019, रविवार
मासिक कार्तिगाई
जून 2, 2019, रविवार
मासिक कार्तिगाई
जून 29, 2019, शनिवार
मासिक कार्तिगाई
जुलाई 26, 2019, शुक्रवार
मासिक कार्तिगाई
अगस्त 23, 2019, शुक्रवार
मासिक कार्तिगाई
सितम्बर 19, 2019, बृहस्पतिवार
मासिक कार्तिगाई
अक्टूबर 16, 2019, बुधवार
मासिक कार्तिगाई
नवम्बर 13, 2019, बुधवार
कार्तिगाई दीपम्
दिसम्बर 10, 2019, मंगलवार

टिप्पणी: सभी समय १२-घण्टा प्रारूप में नई दिल्ली, इण्डिया के स्थानीय समय और डी.एस.टी समायोजित (यदि मान्य है) के साथ दर्शाये गए हैं।
आधी रात के बाद के समय जो आगामि दिन के समय को दर्शाते हैं, आगामि दिन से प्रत्यय कर दर्शाये गए हैं। पञ्चाङ्ग में दिन सूर्योदय से शुरू होता है और पूर्व दिन सूर्योदय के साथ ही समाप्त हो जाता है।

तिरुवन्नामलई की पहाड़ी में कार्तिगाई का त्यौहार बहुत प्रसिद्ध हैं। कार्तिगाई के दिन पहाड़ी पर विशाल दीप जलाया जाता है जो पहाड़ी के चारों ओर कई किलोमीटर तक दिखता है। इस दीप को महादीपम कहते हैं और हिन्दु श्रद्धालु यहाँ जाते हैं और भगवान शिव की प्रार्थना करते हैं।

Kalash
कॉपीराइट नोटिस
PanditJi Logo
सभी छवियाँ और डेटा - कॉपीराइट
Ⓒ www.drikpanchang.com
प्राइवेसी पॉलिसी
Android Play StoreIOS App Store
Drikpanchang Donation